सिम की फुल फॉर्म क्या है Sim Full Form In Hindi

0
115 views

Sim full form in hindi – सिम मोबाइल का उपयोग सभी लोग करते हैं पर क्या आप जानते हैं किस सिम की फुल फॉर्म क्या है इसके बारे में बहुत सारे लोग सवाल पूछते हैं तो इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि सिमका मतलब क्या होता है या सिम की फुल फॉर्म क्या है हमने अपने पिछले पोस्ट में बताया था कि एन आर आई की फुल फॉर्मक्या होती है और एटीएम की फुल फॉर्म क्या होती है उसके बारे में आप लोगों के बहुत अच्छे रिव्यूस मिले हैं और आशा करते हैं यह पोस्ट भी आपके लिए उपयोगी साबित होगी ।

सिम कार्ड मोबाइल का एक बहुत ही जरूरी हम Important Part होता है जिसके जरिए हम दूसरों से बात कर सकते हैं या अपने मोबाइल में इंटरनेट चला पाते हैं कहने का मतलब जितना मोबाइल जरूरी होता है उतना ही मोबाइल में सिम भी जरूरी होता है ।

sim full form in hindi

 

भारत में वर्तमान में लगभग 20 से ज्यादा टेलीकॉम कंपनियों का इस्तेमाल होता है इसमें सबसे पॉपुलर जिओ आइडिया और एयरटेल है इन तीन कंपनियों के के पास भारत के 80 उपयोगकर्ता है हर भारत में अदिकतर लोग अपने मोबाइल फोन में दो सीम का इस्तेमाल करते है तो उनके फ़ोन में या तो एयरटेल और जियो होगा या फिर जियो या आईडिया या फिर आइडिया और एयरटेल हो सकता है ।

पर हम बात कर रहे हैं कि सिम का मतलब क्या होता है या सिम की फुल फॉर्म क्या है क्योंकि इसके बारे में लगभग सभी लोगों को पता नहीं है तो इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि सिम क्या होता है और सिम की फुल फॉर्म क्या होती है जाने पूरी जानकारी हिंदी में। Sim full form in hindi

 

 

Sim full form in hindi – सिम की फुल फॉर्म क्या है

तो चलिए जानते हैं सिम की फुल फॉर्म क्या है सबसे पहले हम अंग्रेजी भाषा में सिम की फुल फॉर्म जानेंगे उसके बाद आपको हिंदी में बातएंगे की सिम की फुल क्या है या सिम का मतलब क्या होता है उसके बारे में बताएंगे

SIM Full Form In Hindi – Subscriber Identification Module 

 

sim full form in hindi

अगर हम सिम की फुल फॉर्म का विश्लेषण करें तो कुछ इस प्रकार से होती है सिम की फुल फॉर्म

SIM Full Form In Hindi :-

S – Subscriber

I – Identification 

M- Module.


तो यह सिम कार्ड की फुल फॉर्म होती है अब बात करते हैं कि हिंदी में सिम की फुल फॉर्म क्या होती है ?

सिम की फुल फॉर्म क्या है हिंदी में ?

क्या आप जानते है हिंदी भाषा में सिम का पूरा नाम क्या होता है तो हम आपको बताते है की सिम का पूरा नाम क्या है सिम का पूरा नाम “ग्राहक पहचान मॉड्यूल” होता हैं

सिम की फुल फॉर्म हिंदी में – ग्राहक पहचान मॉड्यूल

अब बात करते हैं कि सिम क्या होता है और सिम कितने प्रकार के होते हैं और सिम का उपयोग कहा कहा होता है

Sim क्या होता है ?

सिम कार्ड मोबाइल का एक आउटपुट पार्ट होता है जो आकार में बिल्कुल मेमोरी कार्ड जितना होता है यह देखने के लिए बिल्कुल प्लास्टिक के टुकड़े की तरह ही होता है लेकिन इसमें एक इंटीग्रेटेड चिप लगा हुआ होता है जो कोई भी मोबाइल आईडेंटिफाई करता है

सिम के द्वारा ही हम एक नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क पर बात कर सकते हैं और इंटरनेट का उपयोग पहले सिम से ही होता था हालांकि अब इंटरनेट चलाने के लिए वाईफाई हॉटस्पॉट जैसे अन्य सिस्टम आ गए हैं लेकिन आज भी इंटरनेट चलाने के लिए 80 परसेंट लोग सिम का उपयोग करते हैं ।

जब सिम का आविष्कार हुआ था तब Sim का आकार एटीएम कार्ड जितना होता था लेकिन टेक्नोलॉजी के दौर में इसे बिल्कुल मेमोरी कार्ड जितना कर दिया है और अब तो मोबाइल डिवाइस में अलग-अलग आकार के सिम लगते हैं सिम कार्ड में भी स्टोरेज उपलब्ध होता है जो लगभग 400 से ज्यादा नंबर को अपने डेटा में स्टोर रख सकता है इसके अलावा सिम कार्ड में मोबाइल के मैसेज भी स्टोर रहते हैं।

तो आप समझ गए होंगे कि सिम क्या होता है और सिम किसे कहते हैं अब बात करते हैं कि सिम कितने प्रकार के होते हैं

सिम कितने प्रकार के होते हैं  Types OF Sim Card In Hindi

मुख्यतौर पर Sim Card दो प्रकार के होते हैं।

1.  GSM (Global System for Mobile Networks)

2. CDMA 

पर क्या आप जानते है GSM सिम को हम किसी भी मोबाइल में इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन CDMA सिम को किसी दुसरे मोबाइल में इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। क्योकि यह CDMA SIM कार्ड Mobile फ़ोन  के साथ ही मिलता हैं

हालांकि इसका 10 % लोग भी नहीं करते है  । CDMA सिम को आप बाहर नहीं निकाल सकते हैं। सिम उसी कम्पनी का होता हैं, जिस कम्पनी का मोबाइल होता हैं।

उदाहरण: आपको मालूम हो 2019 में जिओ कंपनी ने सबसे सस्ता 4g जियो फोन लांच करा था जिसमें सीडीएमए सिम लगा हुआ था उसमें से उस सिम को नहीं निकाल सकते हैं और किसी दूसरे मोबाइल में उसका उपयोग भी नहीं कर सकते हैं तो उस तरह के सिम को सीडीएमए सिम कहा जाता है ।

लेकिन अब ज्यादातर GSM सिम का ही उपयोग होता हैं। क्योकि इसे हम किसी भी मोबाइल डिवाइस में उपयोग कर सकते है तो आप समझ गए होंगे की सिम दो प्रकार के होते है ।

सिम कार्ड का आविष्कार कब हुआ ?

सिम कार्ड का आविष्कार सबसे पहले वर्ष 1991 में एक जर्मन कंपनी जिसेक और डेविएन्ट (Giesecke & Devrient) नामक व्यक्ति के द्वारा किया गया था पर क्या आप जानते है सबसे पहले सिम कार्ड की तकनीकी विशेषताओं का ब्यौरा  यूरोपीय दूरसंचार मानक संस्थान (European Telecommunications Standards Institute )ने  तय किया था।

आशा करते हैं इस पोस्ट में आपको सिम क्या होता है what is sim in hindiऔर सिम की फुल फॉर्म क्या है Sim full form in hindi और हिंदी में सिम कार्ड की फुल फॉर्म क्या होती है साथ ही आप जान गए होंगे कि सिम का आविष्कार कब हुआ और सिम कितने प्रकार के होते हैं यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

तो इस पोस्ट को के बारे में कमेंट करके सिम के बारे में अपने विचार जरूर साझा करें और इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते हैं तो ऐसे ही कमाल की बेहतरीन जानकारी जानने के लिए जुड़े रहें हमारे ब्लॉक से।

Popular Posts –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here