Sunny Deol की फिल्मो के 20 तोड़फोड़ डायलॉग हिंदी में

0
121 views

बॉलीवुड के मशहूर और Versatile Actor  Sunny deol ke dialogue छोटे बच्चे से लेकर बुजुर्ग व्यक्तियों तक हर कोई सनी देओल के डायलॉग के दीवाने हैं यह बॉलीवुड के सबसे बड़े सुपरस्टार में गिने जाने वाले Caelebrity है इन्होने अपनी हर एक फिल्मों में सभी किरदार बखूभी निभाए हैं जिनकी चाप लोगो के दिलो में बस गयी है ।

और बात करें सनी देओल के फिल्मों की तो इनकी फिल्में लोगों के दिलों में और बॉक्स ऑफिस पर हमेशा ही हिट रही है इस लेख में हम सनी देओल के डायलॉग जो अत्यधिक मशहूर है  खासकर sunny deol ka dialogue katiya wala जो लोगो को बहुत पसंद है और इसके अल्वा भी इस लेख में आपको sunny deol ke film ke 20 dialogue आपके लिए है।

sunny deol ka dialogue

तो चलिए जानते हैं बॉलीवुड के मशहूर एक्टर प्रोड्यूसर और निर्देशक सनी देओल के फिल्मो के डायलॉग्स के बारे में जो अत्यधिक लोकप्रिय और मशहूर है वह आपके लिए इस लेख में पेश है अगर आप सनी देओल के फैन है तो तो खासकर यह लेख आपके लिए है Sunny Deol के 20 तोड़पोड़ डायलाग हिंदी में ।

Top 20 Sunny Deol Ka Dialogue  – सनी देओल के डायलॉग

#1. Sunny Deol Ka Dialogue Katiya  Wala : –

ये मज़दूर का हाथ है कात्या, लोहा पिघलाकर उसका आकार बदल देता है! ये ताकत ख़ून-पसीने से कमाई हुई रोटी की है. मुझे किसी के टुकड़ों पर पलने की जरूरत नहीं ।

sunny deol ka dialogue katiya

  • फिल्म –  घातक (1996)
  • किरदार – काशी

#2. Sunny Deol Ka Dialogue –

अशरफ अली! आपका पाकिस्तान ज़िंदाबाद है, इससे हमें कोई ऐतराज़ नहीं लेकिन हमारा हिंदुस्तान ज़िंदाबाद है, ज़िंदाबाद था और ज़िंदाबाद रहेगा बस बहुत हो गया ।

sunny deol ka dialogue

  • फिल्म – गदर : एक प्रेम कथा (2001)
  • किरदार – तारा सिंह

3#. सनी देओल का डायलाग –

चिल्लाओ मत इंस्पेक्टर, ये देवा की अदालत है, और मेरी अदालत में अपराधियों को ऊंचा बोलने की इजाज़त नहीं  ।

  • फिल्म –  ज़िद्दी (1997)
  • किरदार – देवा

4#. Sunny Deol Ka Dialogue

हलक़ में हाथ डालकर कलेजा खींच लूंगा हरामख़ोर.. उठा उठा के पटकूंगा! उठा उठा के पटकूंगा! चीर दूंगा, फाड़ दूंगा साले !

  • फिल्म – घातक (1996)
  • किरदार – काशी

5#. Sunny Deol के Dialogue Comedy –

क्या चाहता है? क्या चाहता है तू? मौत चाहता है? तेरे सारे कुत्तों को मैंने मार दिया, मगर वो राजू को कुछ नहीं कर सके, वो जिंदा है. तेरा कोई भी बारूद, कोई भी हथियार उसे मार नहीं सकता आज के बाद तेरी हर सांस के पीछे मैं मौत बनकर खड़ा हूं।

  • फिल्म – जीत (1996)
  • किरदार – करण

6#. सनी देओल का डायलॉग ज़िद्दी –

तेरा गुनाहों का काला चिट्‌ठा मेरे पास है इंस्पेक्टर. तुझे कानून की ठेकेदारी का लाइसेंस मिले छह साल हुए, और उन छह सालों में तूने अपने लॉकअप में, पांच लोगों को बेहरमी से मौत के घाट उतार दिया ।

  • फिल्म – ज़िद्दी (1997)
  • किरदार – देवा

7#. Sunny Deol ke Dialogue –

चिल्लाओ मत, नहीं तो ये केस यहीं रफा-दफा कर दूंगा. न तारीख़ न सुनवाई, सीधा इंसाफ. वो भी ताबड़तोड़ ।

  • फिल्म – दामिनी (1993)
  • किरदार –  गोविंद

8#. Sunny Deol Ka Dialogue –

जिस वकील को मारने के लिए तूने अपने आदमी भेजे थे वो अशोक प्रधान.. देवा का बाप है. अगर दोबारा तूने ऐसी ग़लती की तो तेरा वो हश्र करूंगा कि तुझे अपने हाथों से अपनी ज़िंदगी फिसलती हुई नज़र आएगी ।

  • फिल्म – देवा (1997)
  • किरदार – ज़िद्दी

9#. Sunny Deol Ka Dialogue Ghatak movie

आ रहा हूं रुक, अगर सातों एक बाप के हो तो रुक, नहीं तो कसम गंगा मइय्या की, घर में घुस कर मारूंगा, सातों को साथ मारूंगा, एक साथ मारूंगा, अरे रूक!!

  • फिल्म –  घातक (1996)
  • किरदार – काशी

10#.  Sunny Deol Ka Dialogue –

इस चोट को अपने दिल-ओ-दिमाग़ पर क़ायम रखना. कल यही आंसू क्रांति का सैलाब बनकर, इस मुल्क की सारी गंदगी को बहा ले जाएंगे

  • फिल्म – घायल (1990)
  • किरदार – अजय मेहरा

11#. Sunny deol ka dialogue ghatak फिल्म का

पिंजरे में आकर शेर भी कुत्ता बन जाता है कात्या. तू चाहता है मैं तेरे यहां कुत्ता बनकर रहूं. तू कहे तो काटूं, तू कहे तो भौंकू.

  • फिल्म –  काशी,
  • किरदार – घातक (1996)

12#. Sunny Deol का Dialogue घातक फिल्म का

डरा के लोगों को वो जीता है जिसकी हडि्डयों में पानी भरा हो. इतना ही मर्द बनने का शौक है न कात्या, तो इन कुत्तों का सहारा लेना छोड़ दे

  • फिल्म – घातक (1996)
  • किरदार – काशी

13#. Sunny Deol का Dialogue घायल फिल्म का

रिश्वतख़ोरी और मक्कारी ने तुम लोगों के जिस्म में मां के दूध के असर को ख़तम कर दिया है. खोखले हो गए हो. तुम सब के सब नामर्द हो.

  • फिल्म  – घायल (1990)
  • किरदार  – अजय मेहरा

14#. Sunny Deol का Dialogue दामिनी फिल्म का

अगर अदालत में तूने कोई बद्तमीजी की तो वहीं मारूंगा. जज ऑर्डर ऑर्डर करता रहेगा और तू पिटता रहेगा

  • फिल्म – दामिनी (1993)
  • किरदार – गोविंद

15#. Sunny Deol का Dialogue घातक फिल्म का

जो दर्द तुम आज महसूस करके मरना चाहते हो, ऐसे ही दर्द लेकर हम रोज़ जीते हैं –

  • फिल्म – घातक (1996)
  • किरदार  –  काशी

 16#. Sunny Deol का Dialogue घातक फिल्म का

बाप बनकर बेटी को विदा कर दीजिए, इसी में सबकी भलाई है, वरना अगर आज ये जट बिगड़ गया तो सैकड़ों को ले मरेगा

  • फिल्म – गदर: एक प्रेम कथा (2001)
  • किरदार  – तारा सिंह

17#. Sunny Deol का Dialogue घायल फिल्म का

बहुत पछताओगे इंस्पेक्टर, अगर तुमने मुझे ज़िंदा छोड़ दिया तो.

  • फिल्म – घायल (1990)
  • किरदार  – अजय मेहरा

#18. Sunny Deol का Dialogue ज़िद्दी फिल्म का –

नहीं कुलकर्णी मैं तुमको यहां से जाने की इजाज़त नहीं दे सकता, मैं यहां ऊंचाई पर बैठा ज़रूर हूं, मगर इस कोर्ट के फैसले नीचे बैठे ये लोग करते हैं

  • फिल्म –  ज़िद्दी (1997)
  • किरदार – देवा

#19. Sunny Deol का Dialogue नरसिम्हा  फिल्म का –

क्या आप अपने बच्चों को एक ऐसा शहर विरासत में देना चाहते हैं जो गुंडे, बदमाश और ख़ूनी चला रहे हों

  • फिल्म – नरसिम्हा(1991)
  • किरदार – नरसिम्हा

20#. Sunny Deol का Dialogue फिल्म घातक का –

हां हां, जानता हूं. नामर्दों का शहर है ये. बीच बज़ार में एक औरत को घसीटा जाता है, मारा जाता है, बस खड़े होकर तमाशा देखो.. जो मदद करे वो गधा, बेवकूफ

  • फिल्म –  घातक (1996)
  • किरदार –  काशी

ये सभी Sunny Deol के Dialogue आज भी लोगो के दिलो में और इस्तकबाल करते निकल ही जाता है इस लेख में हमने खासकर Sunny Deol के फिल्मे को वो डायलाग दर्शाया है जो काफी लोकप्रिय है नहीं इसके अलावा भी उनके बहुत सारे डायलाग है क्योकि उन्होने बॉलीवुड और हमारे लिए बहुत सारी हिट फिल्मे दी है ।

हमें उम्मीद है आपको Sunny deol ke dialogue के बारे में आपको हमारा ये लेख जरूर पसंद आया होगा तो इसे जरूर सोशल मीडिया पर शेयर करे और आप अपने किसी भी फिल्म का डायलॉग कमैंट्स बॉक्स में जरूर शेयर करे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here