रैम की फुल फॉर्म क्या है Ram Full Form In Hindi

0

क्या आप जानते हैं रैम का पूरा नाम क्या होता है Ram Full Form In hindi रैम की फुल फॉर्म क्या होती है रैम किसे कहते हैं Ram Meaning in hindi यह कितने प्रकार की होती हैं इन सभी सवालों के बताने वाले है यद आपने रैम के बारे में जानते हो या सुना हो लेकिन अधिक लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं ये कंप्यूटर मेमोरी और हमारे दैनिक जीवन में उपयोग होने वाले जरुरी डिवाइस जैसे कंप्यूटर लैपटॉप टेबलेट मोबाइल का एक जरूरी हिस्सा होता है जो कंप्यूटर या अन्य डिवाइस डाटा स्टोर प्रोसेस करने के लिए उपयोग में आती है।

ram full form in hindi

मुख्यतः मेमोरी दो प्रकार की होती है जिसमें सबसे पहले प्राइमरी मेमोरी और  दूसरी सेकेंडरी मेमोरी जो डाटा को स्टोर करने के लिए और devices प्रोसेसिंग करने में उपयोग होती हैलेकिन इससे पहले हम जानेंगे कि रैम का पूरा नाम और रैम की फुल फॉर्म क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है इसके बारे में हम इस लेख में विस्तार से जानेंगे।

प्रेम की फुल फॉर्म क्या है Ram Full Form In Hindi

रैम का पूरा नाम और रैम की फुल फॉर्म निम्नलिखित प्रकार से है जो नीचे दी गई है।

Ram Full Form In Hindi

  • Ram- Random Access Memory

रैम की फुल फॉर्म का विश्लेषण करने पर यह कुछ इस प्रकार से बनती है।

  • R – Random 
  • A – Access
  • M – Memory

अब बात करते हैं हिंदी भाषा में रैम का पूरा नाम क्या होता है तो इसका पूरा नाम आप नीचे देख सकते हैं।

 रैम का पूरा नाम क्या होता है ?

Ram का पूरा नाम रैंडम एक्सेस मेमोरी होता है ।

अब बात करते हैं की रैम कितने प्रकार की होती है और इसका उपयोग कौन कौन से डिवाइस में किया जाता है और इसका क्या महत्व।

Ram क्या होता है

रेम कंप्यूटर और मोबाइल एवं अन्य डिवाइस का एक जरूरी हिस्सा होता है जो डाटा को स्टोर करने के लिए उपयोग होता है यह कंप्यूटर में सीपीयू के अंदर और मोबाइल डिवाइस में उसके बोर्ड पर लगी होती है यह एक प्रकार की मेमोरी होती है लेकिन इसके अंदर कुछ भी डाटा सेव नहीं होता है तथा यह कंप्यूटर और मोबाइल को वर्किंग स्पेस प्रदान करती है।

रैम कितने प्रकार की होती है ?

मुख्यतः रैम दो प्रकार की होती है।

  • SRAM – स्टेटिक रेम
  • DRAM – डायनामिक रेम

1. SRAM – स्टेटिक रेम – SRAM का पूरा नाम या SRAM की फुल फॉर्म static random access memory होती है जिसमें “Static” का अर्थ होता है कि इस RAM में डाटा स्थिर रहता हैं और उसे बार-बार Refresh करने की जरूरत नही पडती है।

SRAM भी Volatile Memory होती हैं इसलिए Power On रहने तक इसमे डाटा On रहता है जैसे ही  Power Off होते ही सारा डाटा स्वत: डिलिट हो जाता हैं इस मेमोरी को Cache Memory के रूप में इस्तेमाल किया जाता हैं।

2. DRAM – डायनामिक रेम – DRAM का पूरा नाम DRAM की फुल फॉर्म dynamic random access memory होती है जिसमे शब्द “Dynamic” यह दर्शाता है चलायमान. अर्थात हमेशा परिवर्तित होते रहना इसलिए इस RAM को लगातार Refresh करना पडता हैं तभी इसमें डाटा स्टोर किया जा सकता है CPU की मुख्य मेमोरी के रुप में DRAM का ही इस्तेमाल किया जाता हैं. क्योंकि इसमे से डाटा को Randomly प्राप्त किया जा सकता हैं ।

तो दोस्तों उम्मीद है इसलिए मैं आपको जानकारी मिल गई होगी की रैम की फुल फॉर्म क्या होती है Ram Full Form in Hindi रैम का पूरा नाम क्या होता है Ram Meaning In hindi और रैम कितने प्रकार की होती है तो अगर यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होती है तो इसको सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें और अपने सुझाव कमेंट बॉक्स में जरूर साझा करें।

Popular Posts-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here