कोण किसे कहते हैं और कोण कितने प्रकार के होते हैं

0

क्या आप जानते हैं कोण किसे कहते हैं What is angle and types of angle और कोण कितने प्रकार के होते हैं तो इस पोस्ट में हम इसी विषय पर बात करने वाले हैं कि कोण क्या है और ये कितने प्रकार होते है और इसका गणित क्या महत्व होता है सबसे पहले जानते है

साधारण भाषा में आपने सुना होगा कोई रेखा अपने एक सिरे को स्थिर रखकर घूमती हुई अपनी स्थिति में परिवर्तन करती है तो उस रेखा की परिक्रमण की माप को कोण कहते हैं हर जेमिति में कोण वो आकृति होती है जो एक बिंदु से दूसरे बिंदु के बीच बनती है

तो चलिए विस्तार से जानते है कोण किसे कहते है कोण कितने प्रकार, कोण कितने प्रकार के होते हैं उनके नाम,
कोण कितने प्रकार के होते हैं, कोण कितने प्रकार के होते हैं उनकी परिभाषा,sampurn kon kise kahate hain, angle kitne hote hai, angle ke prakar, angle, kitne prakar ke hote hai, kon ke prakar, kon kitne prakar ke hote hai और ये कितने प्रकार के होते है

कोण किसे कहते हैं और कोण कितने प्रकार के होते हैं

कोण किसे कहते हैं What is Angle In Hindi

दो किरणों के बीच के झुकाव को कोण कहते हैं। और कोण बनाने वाली दोनों किरणों को कोण की भुजाएं कहते हैं।

 

कोण कितने प्रकार के होते हैं (Types of angles in hindi)

सामान्यतः कोण सात प्रकार के होते हैं आगे आप इनके बारे में विस्तार से जानेंगे की यह कौन कौन से कोण  है और आपको इनके चित्र एवं परिभाषा दोनों प्रकाशित कर रहे हैं कोणों के मुख्य रूप से सात प्रकार होते हैं कोण कितने प्रकार : –

 

1. शून्य कोण (Zero Angle)
2. न्यून कोण (Acute Angle)
3. समकोण (Right Angle)
4. अधिक कोण (Obtuse Angle)
5. ऋजु कोण (Straight Angle)
6. बृहत कोण (Reflex Angle)
7. सम्पूर्ण कोण (Complete angle)

1. शून्य कोण (Zero Angle) :- 

 
 शून्य कोण (Zero Angle)

 

 
यदि कोण बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव शून्य हो तो ऐसे कोण को शून्यकोण कहा जाता है ।

2. न्यून कोण (Acute Angle) :- 

न्यून कोण (Acute Angle)



ऐसा कोण जो शून्य अंश से बड़ा परन्तु 90 अंश से छोटा हो न्यूनकोण कहा जाता है ।



3. समकोण (Right Angle) :- 

 समकोण (Right Angle)



90 अंश का कोण समकोण कहलाता हैं। समकोण की परिभाषा- ऐसा कोण जिसे बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव 90 अंश हो व समकोण कहलाता है।

4. अधिक कोण (Obtuse Angle) :- 

अधिक कोण (Obtuse Angle)



ऐसा कोण जो 90 अंश से बड़ा परन्तु 180 अंश से छोटा हो व अधिककोण कहलाता है।

5. ऋजु कोण (Straight Angle) :- 

ऋजु कोण (Straight Angle)



180 अंश का कोण ऋजुकोण कहलाता हैं।
ऋजु कोण की परिभाषा- ऐसा कोण  जिसे बनाने वाली दोनों किरणें एक दूसरे की विपरीत दिशा में हो, व ऋजुकोण कहलाता है।

6. बृहत कोण (Reflex Angle) :-

 

बृहत कोण (Reflex Angle)



ऐसा कोण जो 180 अंश से बड़ा परन्तु 360 अंश से छोटा हो व  बृहत कोण कहलाता है।

7. सम्पूर्ण कोण (Complete Angle) :- 

सम्पूर्ण कोण (Complete Angle)



360 अंश का कोण सम्पूर्ण कोण कहलाता हैं। सम्पूर्ण कोण की परिभाषा- यदि कोण बनाने वाली दोनों किरणों के मध्य का झुकाव 360 अंश हो तो ऐसे कोण को सम्पूर्णकोण कहते हैं।

आशा करते है दोस्तों आपको कोण क्या है what is angle in hindi या कोण किसे कहते है और कोण कितने प्रकार के होते है इसके बारे में ये जानकारी पसंद आयी होगी तो इस पोस्ट को सोशल साइट्स पर जरूर शेयर करे।

ऐसे ही और विषय की जानकारी जानने के लिए (9techspot.in)से जुड़े रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here