भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल कौन है 2020

0
88 views
तो इस लेख में हम जानेंगे स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल एवं Bharat ke governor ka naam भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल का नाम क्या है या भारत के गवर्नर जनरल कौन है गवर्नर जनरल कौन होता है तथा इसका वेतन और कार्य क्या होता है  अगर आप इन सभी सवालो के जवाब जनना चाहते है तो इस लेख को आखरी तक जरूर पढ़ें क्योंकि यह प्रश्न अक्सर छात्रों की परीक्षा एवं भर्तियों में आते हैं अगर आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो यह प्रश्न आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगा।

 

 

गवर्नल जनरल ब्रिटिश भारत के एक सर्वोच्च अधिकारी का पद हुआ करता था जो ब्रिटिश भारत के समय किसी भी भारतीय को यह पद नहीं मिला था क्योंकि ये बहुत महत्वपूर्ण पद होता था और इस पर सिर्फ अंग्रेजी अधिकार था 1858 ई तक गवर्नर जनरल को ब्रिटिश इंडिया कंपनी के निर्देशक द्वारा चयनित होते थे क्योंकि वह उन्हीं के प्रति जवाबदेही होता था ।

bharat ke governor general ka naam 2020

और बाद में वह महाराजा द्वारा ब्रिटिश सरकार द्वारा और भारत के राज्य सचिव द्वारा ब्रिटिश कैबिनेट के द्वारा इन सभी की राय से चयनित होने लगा 1947 ईस्वी के बाद सम्राट ने उसकी नियुक्ति जारी रखें उस समय गवर्नर जनरल का कार्यकाल 5 वर्ष के लिए होता था हालांकि उसे इस अवधि से पहले हटा दिया जाता है।

अब आपके मन में एक सवाल होगा कि गवर्नर जनरल क्या होता है और इसका कार्य क्या होता है गवर्नर जनरल भारतीय रिजर्व बैंक का अध्यक्ष यानी गवर्नर होता है गवर्नर जनरल केंद्रीय बैंक भारतीय रिजर्व बैंक के सबसे वरिष्ठ बैंक कर्मी होते हैं अब बात करते हैं भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल के बारे में और स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल कौन थे ।

 

 

भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल कौन है ? Bharat ke Governor General Ka Naam

भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल का नाम शक्तिकांत दास है जो भारत के 25 में गवर्नर जनरल के रूप में 12 दिसंबर 2018 को पद पर आसीन हुए और इससे पहले भारत के 24 गवर्नर जनरल रह चुके हैं शक्तिकांत दास का जन्म 26 फरवरी 1957 को भुवनेश्वर उड़ीसा भारत में हुआ है यह पहले भारत के 15 वे वित्त आयोग के सदस्य थे।

bharat ke vartman governor general

और 2016 के नोट बंदी के दौरान मीडिया में प्रेस कॉन्फ्रेंस के सार्वजनिक मुद्दों पर केंद्र सरकार के लिए कार्य किया और  इन्होंने नोटबंदी के दौरान 500 और 2000 के नए नोटों की आपूर्ति और सरकार को बचाव करने अहम भूमिका निभाई थी और 12 दिसंबर 2018 को भारतीय रिजर्व बैंक में शक्तिकांत दास गवर्नर जनरल पद पर आसीन हुए।

भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना 1935 के बाद अब तक कुल 25 गवर्नर जनरल इस पद को संभाल चुके हैं और रिजर्व बैंक के सबसे पहले गवर्नर सर ओसबोर्न स्मिथ थे और वर्तमान नियुक्ति पूर्व वित्त सचिव वित्त आयोग के वर्तमान सदस्य शक्ति दास शक्तिकांत दास बन गए जिन्होंने 11 दिसंबर 2018 को पदभार ग्रहण किया और यह रिजर्व बैंक के 25 में गवर्नर बने हैं।

इस जरुरी जानकारी के बाद यह जानना भी जरूरी है कि आरबीआई क्या है और आरबीआई गवर्नर का कार्य क्या होता है तो आइए जानते हैं

आरबीआई क्या है  ?

आरबीआई यानी भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यह इंडिया का सेंट्रल बैंक है जिसे बैंकर्स का बैंक भी कहा जाता है भारत सरकार की बैंकिंग पॉलिसीज को कंट्रोल करने का काम इसी बैंक के द्वारा किया जाता है यानी इंडियन करेंसी से जुड़े समस्या को रेगुलेट करना और विदेशी मुद्रा भंडार को नियंत्रित करना एवं क्रेडिट कंट्रोल करना जैसे अन्य बहुत से जरूरी काम आरबीआई बैंक के द्वारा किए जाते हैं।

आरबीआई गवर्नर जनरल का कार्य क्या होता है ?

आरबीआई गवर्नर का पद एक बहुत ही जिम्मेदार वाला पद होता है जिसे आरबीआई के गवर्नर की सारी रिस्पांसिबिलिटीज को पूरा करना होता है गवर्नर दुवारा करेंसी जारी करने की प्रक्रिया को मॉनिटर करना और नई प्राइवेट और फॉरेन बैंक्स को लाइसेंस जारी करके बहुत से ऐसे काम करना जो इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम को रेगुलेट करने के लिए काफी जरुरी होते है ।

और आरबीआई गवर्नर को पीएमओ ऑफिस के द्वारा यानी प्राइम मिनिस्टर्स ऑफिस के द्वारा 5 साल के लिए पॉइंट किया जाता है इसकी रिकमेंडेशन यूनियन फाइनेंस मिनिस्टर द्वारा की जाती है और आरबीआई गवर्नर की पोजीशन स्टेट मिनिस्टर के बराबर होती है और आपके मन में यह सवाल होगा कि आरबीआई गवर्नर जनरल का वेतन कितना होता है तो आपको बता दे की आरबीआई गवर्नर का वेतन ढाई लाख रुपए होता है ।

स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल कौन थे

क्या आप जानते हैं स्वतंत्र भारत के गवर्नर जनरल का नाम क्या है या स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल कौन थे अब तक कुल 25 गवर्नर जनरल इस पद को संभाल चुके हैं और स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल लॉर्ड माउंटबेटन थे इनका पूरा नाम फ्रांसिस अल्बर्ट विक्टर निकोलस था इनका जन्म 25 जून 1900 और मृत्यु 27 अगस्त 1989 को हुई यह भारत के आखिरी वायसराय और स्वतंत्र भारत के पहले गवर्नर जनरल 1947 से 48 तक उन्होंने देसी राजाओं को अपनी सियासत ओं को भारत संघ अथवा पाकिस्तान में विलय करने के लिए प्रेरित करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की ।

दोस्तों उम्मीद है इस लेख में आप जानते होंगे कि Bharat ke governor general Ka naam भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल का नाम क्या है और भारत के वर्तमान गवर्नर जनरल कौन है तथा भारत स्वतंत्र भारत के प्रथम गवर्नर जनरल कौन थे (Bharat ke pratham governor general) और गवर्नर जनरल का कार्य क्या होता है और गवर्नर जनरल का वेतन कितना होता है इन सभी प्रश्नों के उत्तर इस लेख में हमने विस्तार से बताएं हैं ।

आशा करते हैं Bharat ke governor general 2020 यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें और साथी अपने सुझाव हमें कमेंट करके हमारे साथ जरूर साझा करें।

Popular Posts –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here